RRB NTPC Result :रेलवे बोर्ड ने जारी करने से पहले रेलवे का बड़ा फैसला, वैकेंसी में की संशोधित

JOB
Spread the love

रेलवे भर्ती बोर्ड ने आरआरबी एनटीपीसी भर्ती अभियान के लिए रिक्तियों को संशोधित किया है। भूतपूर्व सैनिकों की रिक्तियों को सभी राज्यों के लिए मौजूदा प्रावधानों के अनुसार कुल रिक्तियों के 10 प्रतिशत तक संशोधित किया गया है। उम्मीदवार rrbald.gov.in या rrbbhopal.gov.in पर जाकर आरआरबी एनटीपीसी भर्ती की अपडेटेड वैकेंसी का यह नोटिस चेक कर सकते हैं। इसके अलावा गुड्स गार्ड (कैटेगरी 3) लेवल-5 की वैकेंसी दिव्यांग (PwBD) अभ्यर्थियों के लिए उपयुक्त नहीं पाई गई है। आरआरबी/जेएंडके के लिए अधिसूचित एलडी का पद अब नहीं है। रेलवे ने संशोधित वैकेंसी का ब्योरा जारी कर दिया है। इसमें आप चेक कर सकते हैं किस रीजन में किस पद पर कितनी वैकेंसी है। 

आरआरबी एनटीपीसी रिजल्ट 15 जनवरी, 2021 को जारी किए जाएंगे। जो उम्मीदवार परीक्षा के लिए उपस्थित हुए हैं, वे अपनी रीजनल आरआरबी वेबसाइट्स पर जाकर नतीजे चेक कर सकेंगे। एनटीपीसी सीबीटी-1 परीक्षा 28 दिसंबर, 2020 से 31 जुलाई, 2021 तक आयोजित की गई थी।

सीबीटी- 1 परीक्षा पास करने वाले उम्मीदवार सीबीटी 2 परीक्षा में बैठने के पात्र होंगे।  CBT- 1 में पास होने वाले उम्मीदवारों को CBT-2  के लिए शॉर्टलिस्ट किया जाएगा। सीबीटी-2 परीक्षा 14 से 18 फरवरी, 2022 के बीच आयोजित होनी है। 

RRB NTPC Result 2021: स्कोर चेक करने के लिए  यहां देखें वेबसाइट्स की लिस्ट
RRB अहमदाबाद — rrbahmedabad.gov.in
RRB अजमेर — rrbajmer.gov.in
RRB इलाहाबाद — rrbald.gov.in
RRB बैंग्लोर — rrbbnc.gov.in
RRB भोपाल — rrbbhopal.gov.in
RRB भुवनेश्वर — rrbbbs.gov.in
RRB चंडीगढ़ — rrbcdg.gov.in
RRB चैन्नई — rrbchennai.gov.in
RRB बिलासपुर — rrbbilaspur.gov.in
RRB मलदा — rrbmalda.gov.in
RRB गुवाहटी — rrbguwahati.gov.in
RRB जम्मू — rrbjammu.nic.in
RRB कोलकाता — rrbkolkata.gov.in
RRB मुबंई — rrbmumbai.gov.in
RRB मुजफ्फरपुर — rrbmuzaffarpur.gov.in
RRB पटना — rrbpatna.gov.in
RRB रांची — rrbranchi.gov.in
RRB Secunderaba — rrbsecunderabad.nic.in
RRB सिलीगुड़ी — rrbsiliguri.gov.in
RRB तिरुवनंतपुरम — rrbthiruvananthapuram.gov.in

रेलवे भर्ती बोर्ड नॉर्मलाइजेशन प्रक्रिया के माध्यम से परिणाम तैयार कर रहा है।आपको बता दें कि रेलवे भर्ती परीक्षाओं में मार्क्स नॉर्मलाइजेशन की पद्धति अपनाता है। जब अनेक शिफ्टों में और कई दिनों तक परीक्षा होती है तो प्रश्न पत्र के कठिनाई के स्तर में भी अंतर होने की संभावना बनी रहती है। प्रश्न पत्रों के कठिनाई के स्तर में समानता लाने के लिए व्यापक तौर पर मार्क्स नॉर्मलाइजेशन का फॉर्मूला अपनाया जाता है। परीक्षा में शामिल सभी अभ्यर्थियों के मार्क्स को एक फॉर्मूले के तहत नॉर्मलाइज किया जाता है

More from us

BPSC Syllabus 2021 –CLICK HERE

Foreign Invasions in India –CLICK HERE

The Rise and Growth of the Gupta Empire– CLICK HERE

Early Vedic Period (1500 BC – 1000 BC) – CLICK HERE

Indus Valley Civilization – CLICK HERE

Chronology of Important Events in Indian History –CLICK HERE

Bihar State Exam Study Material: Complete Notes for –CLICK HERE

Daily, Monthly, Yearly Current Affairs Digest, Daily Editorial Analysis, Free PDF’s & more, Join our Telegram – CLICK HERE


Spread the love